वीर दास की जीवनी, तथ्य और जीवन की कहानी और विवाद | Vir Das Biography, Facts & Life Story and controversy | वीर दास विवादित वीडियो का फुल हिंदी ट्रांसलेट | Full Hindi translation of Vir Das controversial video

 वीर दास की जीवनी, तथ्य और जीवन की कहानी और विवाद | Vir Das Biography, Facts & Life Story and controversy | वीर दास विवादित वीडियो का फुल हिंदी ट्रांसलेट | Full Hindi translation of Vir Das controversial video

 'मैं दो भारत से आया हूं' ये वो वायरल वीडियो के शब्द हैं जिन्होंने कॉमेडियन और एक्टर वीर दास को मुश्किल में डाल दिया है। इस विवाद विवाद के बाद कॉमेडियन वीर दास पर दिल्ली और कई जगह पुलिस शिकायत दर्ज की गयी है।
       कॉमेडियन वीर दास पर  दिल्ली के तिलक मार्ग थाने में बुधवार को एक प्राथमिकी दर्ज की गई है। आदित्य झा नाम के व्यक्ति ने इस एक्टर-कॉमेडियन के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। शकायत्कर्ता का मन्ना है है वीरदास के इस बयान से देश की छवि धूमिल हुई है और विदेशों में भारत की एक नकारात्मक तस्वीर पेश की है। वीर ने देश के द्वंद्व के बारे में बात की और कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों का सामना भारत कर रहा है, जिसमें COVID19 लॉकडाउन, बलात्कार, कॉमेडियन के खिलाफ कार्रवाई से लेकर किसानों के विरोध तक शामिल हैं।

VIR DAS CONTROVERSY
फोटो स्रोत - दी इंडियन एक्सप्रेस

 

आइये देखते हैं और जानते हैं कि वीरदास ने इस वीडियो में क्या-क्या बोला |  वीर दास विवादित वीडियो का फुल हिंदी ट्रांसलेट | Full Hindi translation of Vir Das controversial video 

       "मैं किस भारत से आता हूँ? मैं दो भारत से आता हूँ ! मैं उस भारत से आता हूँ जहां बच्चे मास्क लगाकर एकदूसरे का हाथ पकड़ते हैं। फिर भी मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ नेता बिना मास्क लगाए गले मिलते हैं। 

   मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ AQI 9000 है  फिर भी मैं उस भारत से आता हूँ,जहाँ अब भी लोग छतों पर सोकर सितारों की ओर देखते हैं। 

    मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ हम औरतों की दिन में पूजा करते हैं, फिर भी मैं उस भारत से  आता हूँ जहाँ रात में उनसे गैंग रेप किया जाता है।  

    मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ हम बॉलीवुड को लेकर ट्विटर पर बंटे होने का दावा करते हैं, फिर भी बॉलीवुड हमें थिएटर के अँधेरे में एकजुट करता है। 

    फिर भी मैं उस भारत से आता हूँ जहां हम सेक्सुअलिटी का उपहास उड़ाते हैं, फिर भी वो काम करते हैं जब तक एक अरब लोगों तक नहीं पहुँच जाते। 

      मैं उस भारत से आता हूँ जहां पत्रकारिता मृतप्राय है जहाँ पुरुष फैंसी स्टूडियोज में, फैंसी सूट में एक दूसरे को हैंड्सजॉब देते हैं फिर भी महिलाऐं सड़क पर लैपटॉप्स के साथ अब भी सच बता रही हैं।

      मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ ग्रीन्स के साथ खेलने पर हमेशा चीयर करते हैं लेकिन जब भी हम ग्रीन से हारते हैं, तो अचानक ऑरेंज हो जाते हैं। 

     मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ हम अपने घरों की सुविधा में जोर से हँसते हैं कि आप दीवारों  के पर भी उसे सुन सकते हैं। फिर भी मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ हम एक कॉमेडी क्लब की दीवारों को तोड़ देते हैं क्योंकि आप अंदर से ठहाके सुन सकते हैं। 

     मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ बूढ़े नेता, अपने मृत पिताओं के बारे में बात करना बंद नहीं करते, और युवा नेता अपनी जीवित माताओं को फॉलो करना बंद नहीं करते, मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ प्लेनेट पर 30 साल से काम के सबसे ज्यादा कामकाजी लोगों की आवादी है। लेकिन 75 साल के बूढ़े  नेताओं के 150 साल के पुराने आइडियाज  को सुनते हैं। 

    मैं उस भारत से आता हूँ, जहाँ हर बार हमें सूचना मिलती है हम हमेशा केयर फॉर  दी पीएम के लिए उपलब्ध हैं। लेकिन हमें पीएम केयर्स पर कोई सुचना की प्राप्ति नहीं होती। मैं  उस देश से आता हूँ जहाँ से हमने ब्रिटिश को खदेड़ दिया फिर भी हम सरकार को रूलिंग पार्टी कहते हैं। 

     मैं उस भारत से आता हूँ, जहाँ औरते साड़ियां और स्निक्केर्स पहनती हैं, और फिर भी उस बूढ़े आदमी से सलाह लेती हैं, जिसने कभी साड़ी नहीं पहनी। मैं उस भारत से आता हूँ कि जहां कि हमारा म्यूजिक बहुत सख्त है, फिर भी हमारी भावनाएं बहुत नरम हैं।  

    मैं उस भारत से आता हूँ, जहाँ लोग क्लब के बाहर सड़क में खुले में सोते हैं। लेकिन साल में बीस बार वही सड़क क्लब होती है। मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ हम शाकाहारी होने पर गर्व महशूस करते हैं,  फिर भी उन किसानों को कुचल देते हैं, जो हमारी सब्जियां उगाते हैं। 

     मैं उस भारत से आता हूँ,  जहां हम जवानों को पूरी सपोर्ट का दावा करते हैं तब तक जब तक वो अपनी पेंशन प्लान्स तक नहीं पहुँच जाते।  मैं उस भारत से आता हूँ, जहां  हम कभी वक़्त पर नहीं पहुँच सकते, ये मायने नहीं रखता कि हम कहाँ जाते हैं, फिर भी हम कोविन वैक्सीन वेबसाइट पर किसी कारण से सबसे पहले होते हैं। 

     मैं उस भारत से आता से आता हूँ जहाँ हमारे पास काम वाली और ड्राइवर्स होते हैं, फिर भी हम अमेरिका आकर उनके जॉब करना चाहते हैं। मैं उस भारत से आता हूँ कि जो सेल्फसबस करता है फिर भी मैं उस भारत से आता हूँ, जो खुदको संरक्षित करता है। मैं उस भारत से आता हूँ, जो चुप नहीं करेगा, फिर भी मैं उस भारत से आता हूँ जो नहीं बोलेगा। 

     मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ लोग मुझे हमारी डर्टी लॉन्ड्री को एयर करने का आरोप लगाएंगे, फिर भी मैं उस भारत से आता हूँ, जो खुलकर अपने जज्बातों का  इज़हार करता है, इसके बाबजूद कि हमारे कपड़े कितने गंदे हैं।

       मैं उस भारत से आता हूँ जहां मुझे हर दिन पाकिस्तान जाने के लिए कहा जाता है, फिर भी मैं उस भारत से आता हूँ जो हर दिन पाकिस्तानियों को न्यौता देता है, सिर्फ तब कि उनके पिछबाड़े को क्रिकेट फील्ड पर ललकारा जा सके। 

      मैं भारत से आता हूँ जो इसे देखेगा और कहेगा  कॉमेडी नहीं है केडेन जोक कहाँ हैं? फिर भी मैं उस भारत से आता हूँ जो कहेगा ये बहुत बड़ा जोक है। यही है क्या ये मजेदार नहीं है मैं उस भारत से आता हूँ, जहाँ बच्चे वेसमेंट्स में रहते हैं और कम्मेन्ट्स सेक्शन में लिखते हुए ज्यादा हिम्मत दिखाते हैं, उन मर्दों की जगह जो गगनचुंब्बी ईमारतों में  हैं।

      मैं उस भारत से आता हूँ जहाँ हिन्दू,मुस्लिम,ईसाई, सिख, पारसी यहूदी सब साथ मिलकर आकाश की ओर एक ही चीज को देखते हैं, और वो है पेट्रोल की कीमत। मैं आपको यहाँ आज रात को छोड़कर उस भारत में बापस जाऊंगा, किस भारत में मैं बापस जाऊंगा, उन दोनों में, किस भारत पर मुझे गर्व है उनमें से एक पर, किस भारत को मुझ पर गर्व है उनमें से किसी को नहीं। 

      मैं ये करना चाहता था क्योंकि हम कैनेडी सेण्टर पर हैं,आप जानते हैं कि एक आर्टिस्ट  के लिए ये एक सपना है, मेरा भी ये बहुत समय से सपना था। इसका सपना होने का कारण है कि आपको यहाँ महान लोगों को देखने का मौका मिलता है। 

   आपको स्टेज पर महानता देखने को मिलती है यह पूरा कक्ष एक महान आर्मी की याद में बनाया गया। अब जबकि मैं आपके सामने खड़ा हूँ ये मुझे याद दिलाया गया कि मैं महान लोगों की नुमाइंदगी कर रहा हूँ, महान लोग जिन्होंने एक महान चीज बनाई जोकि यादगार में बदल रही है। मैं जानता हूँ आप उस भारत में यकीन करते हैं,जैसे कि मैं उस भारत में यकीन  रखता हूँ क्योंकि मैं उसे आपकी आँखों में देखता हूँ और आप आज रात इस कक्ष में मौजूद हैं तो आपके देश को छोड़ने से पहले मैं इस स्टेज को छोडूंगा और फिर कैमरा आपके ऊपर कर दूंगा और आप उस भारत के लिए आवाज कीजिये जिसमें आप रहना चाहते हैं क्योंकि मैंने आपने वादा किया है कि ये कैनेडी सेण्टर है लेकिन आज रात ये हमारा हाउस है तो इसलिए भारत के लिए कुछ आवाज कीजिये।

"वीडियो दो अलग-अलग भारत के द्वंद्व के बारे में एक व्यंग्य है जो अलग-अलग चीजें करते हैं। जैसे किसी भी राष्ट्र के भीतर प्रकाश और अंधेरा, अच्छाई और बुराई होती है। इनमें से कोई भी रहस्य नहीं है। वीडियो हमें यह कभी नहीं भूलने की अपील करता है कि हम महान हैं। जो हमें महान बनाता है उस पर ध्यान केंद्रित करना कभी बंद न करें। यह उस देश के लिए तालियों के विशाल देशभक्ति के दौर में समाप्त होता है जिसे हम सभी प्यार करते हैं, विश्वास करते हैं और जिस पर हमें गर्व है। यह कि हमारे देश में सुर्खियों की तुलना में अधिक है, एक गहरा सुंदरता। यही वीडियो की बात है और तालियों का कारण है," वीर दास ने अपने बयान में कहा।

वीर दास  जीवन परिचय

       वीर दास एक प्रसिद्ध भारतीय फिल्म अभिनेता, टेलीविजन अभिनेता और कॉमेडियन हैं, जिन्हें आमतौर पर बॉलीवुड फिल्मों में उनके उल्लेखनीय अभिनय के लिए पहचाना जाता है। उनका जन्म 31 मई, 1979 को देहरादून, भारत में हुआ था।

      वीर दास ने अर्थशास्त्र के रास्ते पर चलकर थिएटर की ओर रुख किया। जब वे इलिनोइस के नॉक्स कॉलेज में पढ़ रहे थे, तब उन्होंने स्टैंड-अप कॉमेडी के प्रति उनके आकर्षण को महसूस किया। अतिरिक्त हलचल के बिना, वह आगे बढ़े और नॉक्स के हारबैक थिएटर में ब्राउन मेन कैन्ट हंप में अभिनय किया। वीर दास को कला के क्षेत्र में उनके लुभावने काम के लिए कोल्टन परफॉर्मेंस अवार्ड से सम्मानित किया गया। उन्होंने हार्वर्ड से नियमित अभिनय सीखा और साथ ही मॉस्को आर्ट्स थिएटर में भी भाग लिया।

       भारत के भीतर, उन्होंने कई स्थानों पर प्रदर्शन किया और अपने छह विशेष गीतों की रचना की।  भारत के भीतर उनकी शुरुआत हैबिटेट सेंटर, नई दिल्ली में हुई थी। उनके नाटकों के टिकट दर्शकों की संख्या में हॉट केक की तरह बिकते हैं। वीर दास सबसे अधिक देखे जाने वाले YouTuber हैं और अपने शानदार प्रदर्शन और ताज़ा सामग्री से दर्शकों को लुभाने में काफी कुशल हैं।
   
      स्टार वर्ल्ड, जूम, सब टीवी, स्टार वन, सीएनबीसी-टीवी18, सीएनएन-आईबीएन जैसे टेलीविजन चैनलों ने उन्हें अपने चैनलों के लिए नियुक्त किया। उन्होंने अपने द्वारा किए गए उत्तेजित प्रदर्शनों से दर्शकों का दिल जीत लिया। वीर दास ने बॉलीवुड सिल्वर स्क्रीन पर नमस्ते लंदन फिल्म में सहायक किरदार के साथ अभिनय किया। उन्हें बॉलीवुड में 15 से अधिक फिल्मों में सहायक भूमिकाएँ निभाते हुए देखा गया था।

     इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में मनोरंजन के अलावा, वीर दास को मैक्सिम, फेमिना, डीएनए, एक्सोटिका और तहलका जैसी पत्रिकाओं के लिए लिखने के लिए एक कॉलम प्रदान किया जाता है। दिल्ली टाइम्स, हिंदुस्तान टाइम्स, द इंडियन एक्सप्रेस जैसे शीर्ष समाचार पत्रों द्वारा वीर की आलोचना की जाती है। इसलिए आजकल, वह एक स्टैंड-अप कॉमेडियन, लेखक, मेजबान, निर्देशक, अभिनेता और कामचलाऊ में कुशल के रूप में खड़ा है।

      इंडियन एक्सप्रेस ने उन्हें 'एक कॉमेडियन टु वाच आउट' करार दिया है। हिंदुस्तान टाइम्स ने उन्हें 'सिम्पली हिस्टेरिकल' नाम दिया है। दिल्ली टाइम्स ने उन्हें दिल्ली की टॉप ड्रीम पर्सनैलिटी में से एक करार दिया है। पायनियर ने उन्हें 'द फनीएस्ट किड इन इंडिया' नाम दिया है। वर्वे ने उन्हें 'इंडियाज इकलौता ट्रू कॉमिक' नाम दिया है। इंडियन एक्सप्रेस ने उन्हें 'इंडियाज आंसर टू जे लेनो' शीर्षक दिया है। वीर दास ने अपने पीछे 35 नाटकों, 100 स्टैंड-अप कॉमेडी सिटकॉम, 2 फिल्में, 8 टीवी शो, 6 कॉमेडी नाटकों का श्रेय दिया है। वीर दास ने मैक्सिम, फेमिना, डीएनए, एक्सोटिका और तहलका के लिए कई कॉमिक कॉलम भी लिखे।

तथ्य जो आप वीर दास के बारे में कभी नहीं जानते थे!

  • क्या वीर दास धूम्रपान के आदी हैं ?:  नहीं
  • क्या वीर दास शराबी हैं ?:  नहीं
  • उन्होंने नॉक्स कॉलेज यूएस में लगभग 2 घंटे तक अपना पहला स्टैंड-अप प्रदर्शन किया।
  • वीर के पास एक बुलडॉग है, जिसे डॉक्टर वाटसन कहते हैं।
  • उनका परिवार अपने पांचवें नेता मुर्तला मोहम्मद की हत्या के कारण आपातकाल के ठीक बाद नाइजीरिया से भारत आ गया।
  • बचपन से ही, वीर दास ने बिल कॉस्बी का एल्बम देखा, जिसने स्टैंड-अप के प्रति उनकी रुचि पैदा  की।
  • संयुक्त राज्य अमेरिका में स्नातक होने के ठीक बाद, उन्होंने एक भवन चित्रकार, सुरक्षा गार्ड की तरह कई काम किए; शिकागो में बैंक्वेट बारटेंडर और डिश वॉशर।
  • वीर दास एक संगीतकार भी हैं, और एलियन चटनी नामक एक संगीत बैंड से जुड़े हुए हैं।
  • उन्होंने शिवानी माथुर से शादी की है।
  • वीर दास एक भारतीय अभिनेता, हास्य अभिनेता और YouTube व्यक्तित्व हैं। भारत में जन्मे, उन्होंने अपनी उच्च शिक्षा के लिए अमेरिका जाने से पहले अपने शुरुआती साल नाइजीरिया में बिताए।
  • वीर दास ने कॉमेडी शो 'ब्राउन मेन कैन्ट हंप' में एक स्टैंडअप कॉमेडियन के रूप में अपना करियर शुरू किया, जो नॉक हारबैक थिएटर में शुरू हुआ। भारत लौटने के बाद, उन्होंने लोकप्रिय 'द ग्रेट इंडियन कॉमेडी शो' जैसे कॉमेडी शो की मेजबानी और प्रदर्शन करना शुरू कर दिया।
  • वीर दास का जन्म 31 मई 1979 को देहरादून, यूपी (अब उत्तराखंड में) में हुआ था। उनका पालन-पोषण ज्यादातर अफ्रीका में हुआ और उन्होंने लागोस, नाइजीरिया, दिल्ली और शिमला जैसे कई स्थानों पर अध्ययन किया
  • वीर दास अपनी उच्च शिक्षा के लिए अमेरिका चले गए और नॉक्स कॉलेज, इलिनोइस से अर्थशास्त्र और थिएटर में डिग्री के साथ स्नातक की उपाधि प्राप्त की।
  • नॉक्स में पढ़ाई के दौरान ही वीर दास ने स्टैंडअप कॉमेडी करना शुरू कर दिया था। उनके एक घंटे के विशेष, 'ब्राउन मेन कैन्ट हंप', जो नॉक्स के हारबैक थिएटर में शुरू हुआ, ने बहुत प्रशंसा अर्जित की।
  • 2009 में, उन्होंने रोमांटिक फिल्म 'लव आज कल' में सहायक भूमिका निभाई। इम्तियाज अली के निर्देशन में बनी इस फिल्म में सैफ अली खान और दीपिका पादुकोण मुख्य भूमिका में थे।
  • वीर दास शिक्षा

योग्यता:     अर्थशास्त्र और रंगमंच में स्नातक की डिग्री

स्कूल:   भारतीय भाषा स्कूल, लागोस, सनावर बोर्डिंग स्कूल, सोलन, दिल्ली पब्लिक स्कूल,            दिल्ली

कॉलेज:        श्री वेंकटेश्वर कॉलेज, नई दिल्ली
नॉक्स कॉलेज, गैल्सबर्ग, इलिनोइस

 वीर दास करियर

पेशा:    अभिनेता और हास्य अभिनेता

डेब्यू:   फिल्म डेब्यू: नमस्ते लंदन (2007)
टीवी डेब्यू:  रिपिंग द डिकेड (2010)

वेतन: ज्ञात नहीं

नेट वर्थ:   यूएसडी $ 10.75 मिलियन लगभग।

परिवार और रिश्तेदार

पिता: ज्ञात नहीं (प्रबंधक)

माता : मधुर दासी

भाई (ओं): ज्ञात नहीं

बहन (बहनें):  त्रिशा

वैवाहिक स्थिति: विवाहित

जीवनसाथी:   शिवानी माथुर (इवेंट मैनेजर)

बच्चे:   ज्ञात नहीं

डेटिंग इतिहास:  शिवानी माथुर (इवेंट मैनेजर)

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post